दुनिया के सबसे बड़े ब्रांड चलाने वाले भारतीय Ceo- अभी देखे

दोस्तों हमारा देश भारत संस्कृति और सभ्यता के लिए कोई देश में जाना जाता है। लेकिन सालों से हम अपनी सभ्यता और संस्कृति से पहचाने जाने वाले भारतीय, सभी चीजों में लाख आगे क्यों ना हो जाए? लेकिन दुनिया हमें पीछे ही मानती हैं। हालांकि अगर हिस्ट्री उठाकर देख ली जाए। तो भारत में ऐसे लोगों की कमी नहीं है। जिन्होंने अपने हुनर और काबिलियत के दम पर पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है। और स्वामी विवेकानंद जी और महात्मा गांधी जी इस बात के सबसे बड़े Example हैं जिन्होंने पूरे दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है।

हालांकि यह लोग तो बहुत पहले ही भारत का नाम दुनिया में रोशन कर चुके हैं। लेकिन आज भी देखें तो भारत के अंदर बहुत सारे लोग मौजूद हैं जिन्होंने भारत का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया है। अपने हुनर और काबिलियत के दम पर!

दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम यही बात करेंगे की दुनिया के टॉप इंडिया सीईओ जिन्होंने अपनी काबिलियत और हुनर के दम पर पूरी दुनिया में भारत का नाम ऊंचा किया है।

या यह बोल लिया जाए की इन्होने जिन्होंने अपने हुनर और काबिलियत के दम पर अपनी कंपनियों को सफलतापूर्वक चलाया है और दुनिया का बेहतरीन कंपनियों में से अपनी कंपनियों को बनाया है।

सुंदर पिचाई

Alphabet CEO Sundar Pichai's 2019 compensation topped $280 million ...
Image Source Google Search

तो दोस्तों हमारे सबसे पहले लिस्ट में नाम है सुंदर पिचाई का। दरअसल टेक्निकल और मैनेजमेंट स्किल से आपको हैरान करने वाले सुंदर पिचाई को हम कैसे भूल सकते हैं, ना आज पूरा भारत देश ही सुंदर पिचाई को जानता है। पूरी दुनिया सूंदर पिचाई को जानती है क्योंकि सुंदर पिचाई ही वो शख्स हैं जिन्होंने अपनी काबिलियत के दम पर यह मुकाम हासिल किया। जिसे पाने के लिए एक आम इंसान खाली सपने ही देख सकता है।
हालांकि आज सफलता उनके कदम चूम रही हो। लेकिन सफलता से पूर्व इन्होंने अपनी शुरुआत भारत से ही की थी। जहां सुंदर पिचाई ने अपनी बीटेक की डिग्री और आईआईटी खड़कपुर से ली और उसके बाद एडवांस लेवल की पढ़ाई के लिए उन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया। और उसके बाद उन्होंने एमबीए की डिग्री ली वहीं पर रह कर!

फिर उसके बाद सुंदर पिचाई में McKinsey & Company में मैनेजमेंट कंसलटिंग का काम किया है। साल 2004 में सुंदर पिचाई ने गूगल कंपनी को ज्वाइन किया और वहां पर सबसे नीचे स्तर से शुरुआत की। और फिर धीरे-धीरे उन्होंने मैनेजमेंट कंसलटिंग से सीईओ बनने तक का सफर पूरा किया।
और इस तरह से सुंदर पिचाई आज गूगल की पैरेंटल कंपनी गूगल अल्फाबेट के सीईओ हैं। और आज गूगल में जितना नाम कमाया है उसमें सुंदर पिचाई का बहुत अहम भूमिका है

सत्य नडेला

Microsoft CEO Satya Nadella on CAA: 'Would love to see a Bangla ...
Image Source Google Search

 

इसी तरीके से आप दूसरे नंबर पर हैं। सत्य नडेला सिर्फ गूगल ही नहीं माइक्रोसॉफ्ट जैसी बड़ी कंपनी को चलाने के लिए, हमारे यह भारतीय सत्य नडेला जी आगे आए। सत्य नडेला माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के तीसरे सीईओ है। जहां इन्होंने Bill Gates और Steve Ballmer के बाद से Microsoft के सीईओ की कुर्सी संभाली। उनके सीईओ के पद को संभालने से लेकर अब तक वह कंपनी को ऊंचाइयों तक ले जाने पर काम कर रहे हैं। दोस्तों यह जानकर आपको गर्व होगा कि सत्य नडेला के गाइडेंस के अंदर Microsoft दुनिया की मोस्ट वैल्युएबल कंपनी बन गई है। और माइक्रोसॉफ्ट ने LinkedIn और GitHub जैसी कंपनी को भी एक्वायर किया है?

शांतनु नारायण

Watch CNBC's full interview with Adobe CEO Shantanu Narayen
Image Source CNBC.com

हमारी लिस्ट पर तीसरे नंबर पर है शांतनु नारायण। दरअसल शांतनु Adobe कंपनी के चेयरमैन, प्रेसिडेंट और सीईओ हैं। वैसे तो उन्होंने यह कंपनी 1998 में ज्वाइन कर ली थी। लेकिन कंपनी में 8 साल तक मेहनत करने के बाद इन्होंने इस कंपनी में Ceo की पद हासिल कर ली थी। और तब से लेकर अब तक बहुत सारी पदों पर काम कर चुके हैं इसी कंपनी में साथ ही Barron’s मैगजीन के अनुसार बेस्ट सीईओ की लिस्ट में उनका भी नाम शामिल है। इनकी इन्हीं काबिलियत की वजह से इन्हें पद्मश्री से भी नवाजा जा चुका है।

राजीव सुरी

Nokia CEO Rajeev Suri Is Stepping Down at Telecom-Equipment Maker ...
Image Source wsj.com

इस लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं। Ceo of Nokia Company राजीव सुरी, दरअसल जिस कंपनी का बोलबाला शुरुआती दौर में बहुत ज्यादा था। उस कंपनी को भी हमारे भारत के राजीव सुरी ऑपरेट कर रहे हैं। हालांकि जब राजीव सुरी कंपनी के साथ जुड़े थे तब नोकिया की सेल बहुत ज्यादा गिरी पड़ी हुई थी। लेकिन राजीव सूरी ने सीओ का पद संभालने के बाद से ना तो उनके सेल को बढ़ाया मतलब उनको ऊंचाइयों पर भी लेकर गए। 2016 में राजीव सुरी को फिनलैंड में बिजनेस ऑफ द ईयर के अवार्ड से भी नवाजा गया।

इंदिरा नुई

Indra Nooyi shared a work regret on her last day as PepsiCo CEO
Image Source CNBC.com

लिस्ट में पांचवें नंबर पर हैं, पेप्सी कंपनी की सीईओ रह चुकी इंदिरा नुई। इन्हें दुनिया की Top Hundred Power Full Women की लिस्ट में भी जगा दिया गया है। दरअसल इंदिरा नूरी भी भारत के में मद्रास मैं अपनी पढ़ाई पूरी की और फिर इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट कोलकाता से एमबीए की? और फिर लास्ट में यले यूनिवर्सिटी से एमएस की डिग्री हासिल की। और फिर पेप्सीको कंपनी का कार्यभार संभालने में लग गयी, अपनी डेडीकेशन से उन्होंने कंपनी को उचाई तक पहुंचाया।

अरविंद कृष्णा

Arvind Krishna (@ArvindKrishna) | Twitter
Arvind Krishna | Twitter

और दोस्तों इसी तरीके से अरविंद कृष्णा हमारे लिस्ट में छठे नंबर के हैं। आईआईटी कानपुर से अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद उन्होंने University of Illionois से अपनी पीएचडी की डिग्री हासिल की। और अब आईबीएम कंपनी के सीईओ के पद पर हैं। उन्होंने अपनी लाइफ में बहुत उतार-चढ़ाव देखने हैं। उसके बारे में हम फिर कभी बात करेंगे।

अजय पाल सिंह बंगा 

India's policy environment is very conducive': Outgoing Mastercard ...
Image Source Hindustan Times

भारत के अजय पाल सिंह बंगा को पदम श्री अवार्ड से सम्मानित। अजय पाल सिंह बग्गा मास्टर कार्ड के सीईओ के पद पर कार्य करते हैं। अजय पाल सिंह बंगा भी भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। अजय पाल सिंह बग्गा वैसे तो पुणे में जन्मे में है। और दिल्ली यूनिवर्सिटी में इकोनॉमिक्स करने के बाद उन्होंने इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट अहमदाबाद से अपनी एमबीए की डिग्री प्राप्त की। फिल्म नेस्ले इंडिया और पेप्सीको कंपनी में काम करने के बाद वह मास्टर कार्ड के सीईओ के पद पर काम कर रहे हैं।

तो दोस्तों यह थे भारत के वह लोग जिन्होंने पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया और अपना हुनर दिखा रहे हैं। और हमें उम्मीद है कि आपको भी इनके बारे में जानकर काफी मजा आया होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *